15 जून 2016

Feeling thoughtful

सिंगापुर में एक नाईट सफारी है जो रात में ही खुलता है |ये प्रमुखतः एक जू है जहाँ हिप्पो , जिराफ , सफ़ेद भालू से लेकर पांडा , सफ़ेद हाथी तक अनोखे जानवर हैं| ये एक विशाल और खूबसूरत जंगल है जहाँ नदी , पुल , बड़े बड़े पेड़ , खूबसूरत बेलें आदि हैं |जानवरों के परिवार दूरी पर एक लट्टू की रोशनी में दिखाई देते हैं बाकी अन्धकार... |बेआवाज़ चलने वाली दर्शकों को ले जारही खुली ट्राम में धीमी आवाज में एक बेहद मधुर स्त्री स्वर में कोमेंट्री चलती रहती है |दर्शक बीचजंगल में कहीं भी उतर कर घूम सकते हैं |ट्राम आपको वहीं छोड़कर अन्धकार में गायब हो जाती है जोकरीब आधा पौन घंटे बाद दुसरे चक्कर पर आपको वापस ले जाती है |प्रकृति और उन जानवरों के परिवार को पास जाकर देख सकते हैं |वहां दर्शकों और उन जानवरों के बीच में लोहे की जाली है और जगह २ कैमरेलगे हैं ताकि कोई इमरजेंसी न हो |वो जंगल अद्भुत हैं | जंगल की अपनी एक ध्वनी होती है जो बस्तियों की भीड़ से अलग अलौकिक होती है | दूर तक बड़े बड़े दरख्त , रात में हवा में झूलती झूमती उनकी शाखाएं , चाँद की उन दरख्तों पर बिखरती रोशनी ,पत्तियों की सरसराहट , कहीं २ घुप्पएकांत के बीच किसी पक्षी का स्वर, किसी छोटे पुल से गुज़रते हुए नीचे बह रहे दरिये की छलछलाहट , दूर कहीं चौकड़ी भरता हिरन का जोड़ा |ये एक अद्भुत अलौकिक अनुभव से गुजरना है जहाँ कुछ देर के लिए सब कुछ भूल जाते हैं | मुझे दो जगहें विरल लगती हैं |एक बहुत उंचाई पर उड़ रहे प्लेन से बादलों के घने गुछे तैरते हुए देखना और उनके बीच से गुजरना दूसरा प्रकृति के बीच एकांत वन में सिर्फ प्रकृति के साथ विचरण करना ....

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें